शुक्रवार, 12 सितंबर 2008

किसकी दिल्‍ली मुंबई है, किसका हिन्‍दुस्‍तान है ...

किसकी दिल्‍ली-मुंबई है
किसका हिन्‍दुस्‍तान है
किसकी टोपी-लाठी है
किसका मयान है
कौन खाली सर है
किसका जहान है

दलालों की दिल्‍ली-मुंबई है
मेहनतकशों का हिन्‍दोस्‍तान है
अंधों की लाठी-टोपी है
बहरों का मयान है
अवाम खाली सर है
जन का जहान है ...

2 टिप्‍पणियां:

Ek ziddi dhun ने कहा…

ek mein kai-kai hindustan hain...

khalid ने कहा…

sundar lagi ...........mukul ji...khalid a khan